महिलाओं का दिल जीतने और उनके मन में खुद के प्रति विश्‍वास जगाने के लिए तारीफ के साथ-साथ जरूरी है कि उनकी मदद करें, उनके साथ बाहर घूमने जायें और हर पल उन्‍हें याद करें।

 

महिलाओं का दिल जीतना

 

ऐसा माना जाता है कि महिलाओं का दिल जीतने के लिए केवल उनकी तारीफ ही काफी है। यहां दिल जीतने का मतलब है कि महिला आप पर भरोसा करे, आपसे अपनी सभी बातों को शेयर करे, ऐसा केवल तारीफ करने से संभव नहीं है। लेकिन हां अगर वास्‍तव में आप उनका दिल जीतना चाहते हैं तो आपको कई प्रयास करने होंगे। उनकी बातें सुननी होंगी, उनका ध्‍यान रखना होगा, उनकी मदद करनी होगी, इसके अलावा और भी कई तरीके हैं जो आपको उनके दिल का खास बना सकते हैं।

 

मदद करें

 

अगर आप किसी महिला के दिल को पिघलाना चाहते हैं तो उसकी मदद कीजिए। घर के छोटे-छोटे कामों में उसका हाथ बंटाइये, वीकेंड पर आप उसके लिए ब्रेकफास्‍ट बना सकते हैं, शॉपिंग में उनकी मदद कर सकते हैं। इससे उन्‍हें खास होने का एहसास होगा और आप उनका दिल जीतने में सफल होंगे।

उपहार दीजिए

 

महिलाओं को उपहार बहुत पसंद होते हैं, गिफ्ट देकर आप अपनी पार्टनर का दिल आसानी से जीत पायेंगे। इसे थोड़ा रोमांचक और अलग एहसास दिलाने के लिए खास तोहफा दीजिए, तोहफे में आप ज्‍वेलरी दे सकते हैं, कहीं बाहर घूमने का प्‍लान बना सकते हैं।

खूबसूरती की तारीफ करें

 

महिलाओं को उनकी खूबसूरती की तारीफ करने वाले लोग बहुत पसंद होते हैं, अगर आप भी महिलाओं का दिल जीतना चाहते हैं तो उनकी खूबसूरती की तारीफ कीजिए। उनके चेहरे की तारीफ, उनके एक्‍सप्रेशंस की तारीफ, उनके बालों की तारीफ, कपड़ों की तारीफ करके आप उनका दिल जीत सकते हैं। मुस्‍कान की भी तारीफ करें।

बुद्धिमत्‍ता की तारीफ

 

अगर आपकी महिला साथी ने कोई बुद्धिमत्‍तापूर्ण काम किया है तो उसकी तारीफ जरूर कीजिए। महिलाओं के दिमाग की तारीफ करके आप उनका दिल आसानी से पिघला सकते हैं। दिमाग की तारीफ करने से महिलाओं को यह भी लगता है कि आपका लगाव केवल उनकी खूबसूरती से नहीं है बल्कि आपकी रुचि उनके व्‍यक्तित्‍व में भी है।

एक खास नाम दें

 

आप जिस महिला का दिल जीतना चाहते हैं जाहिर सी बात है कि आप उसके करीब होंगे। उसे खास होने का एहसास दिलाने के लिए एक खास नाम दीजिए, खास नाम जैसे – स्‍वीटी, स्‍वीटहार्ट, जानू, बेब, डार्लिंग आदि। घर में इस नाम से बुलायें अगर बाहर हों और कई लोगों के बीच हों तब भी इसी नाम से बुलायें, फिर देखिये उनका दिल कैसे नहीं पिघलता।

बाहर घुमाने ले जायें

 

रोमांटिक टूर पर जाना किस महिला को पसंद नहीं होगा, और यह बहुत ही अच्‍छा मौका होगा जब आप उनका दिल आसानी से जीत पायेंगे। तो उनके साथ किसी रोमांटिक जगह पर घूमने जायें और अपने दिल की बात कहें।

उनकी बातों को सूनें

 

अगर आप महिलाओं की बात सुनेंगे और उनकी बात सुनकर सकारात्‍मक जवाब देंगे तो जरूर उनका दिल पिघल जायेगा। इसलिए महिला का दिल जीतने के लिए जरूरी है कि उनकी बातों को सुनने की आदत डालें और अगर उसने अच्‍छी बात की है तो उसकी तारीफ भी करें।

कभी-कभी स्‍पर्श भी करें

 

प्‍यार भरा स्‍पर्श उनके दिल को पिघलाने में मदद करता है। बातचीत के दौरान अचानक से उनके हाथों को प्‍यार से छुयें, उनकी उंगलियों से खेल भी सकते हैं। लेकिन ये सब अपनी हद में रहकर ही करें। आपकी ये हरकते उन्‍हें अच्‍छी लगेंगी और वो आसानी से पिघल जायेंगी।

थोड़ी फ्लर्टिंग भी

 

महिलाओं का दिल जीतने के लिए थोड़ा सहारा फ्लर्टिंग का भी लीजिए। लेकिन अगर आप उनके साथ फ्लर्ट कर रहे हैं तो बड़ी सफाई से कीजिए, उन्‍हें बस ऐसा लगे कि आप जो कर रहे हैं और आप जो बोल रहे हैं वो सही है।

हर वक्‍त याद करें

 

आप अगर उनके अच्‍छे दोस्‍त हैं तो जरूरी नहीं कि खुशी के पलों में ही उन्‍हें याद करें, अपने गम के क्षणों में भी उन्‍हें याद कीजिए। उन्‍हें खुद एहसास हो जायेगा कि उन‍की अहमियत आपकी जिंदगी में कितनी है।

 

ये 9 संकेत जो टूटते रिश्‍ते की है निशानी, हो जाएं सतर्क

दो प्यार करने वालों के बीच भी कभी-कभी कुछ कारणों से फांसले आने लगते हैं और फिर छोटी-छोटी बातों पर नोकझोंक शुरू हो जाती है। ये संकेत हो सकते हैं संबंधों के खात्मे का इशारा।

 

व्यवहार में बदलाव

 

व्यवहार में बदलाव आपके बीच दूरियां बढ़ने का एक बड़ा संकेत हो सकता है। यदि आपके साथी का अब आपकी बातों पर ध्यान नहीं जाता, वह गंभीर बातों को सुनकर भी अनसुना कर देता है या फि आपकी बातों का जवाब अकसर झुंझुलाकर देता है। बेवजह गुस्सा करना इत्यादि। यदि ये सारे लक्षण उनके व्यवहार में नजर आ रहे हैं तो आप समझ लें कि ये खतरे की घंटी है।

कहते हैं सच्चे प्यार का साथ जन्म-जन्मांतर का होता है, लेकिन कभी-कभी कुछ लोगों के लिए एक जन्म साथ रहना भी महंगा पड़ जाता है। दो प्यार करने वालों के बीच भी कभी-कभी कुछ कारणों से फांसले आने लगते हैं और फिर छोटी-छोटी बातों पर नोकझोंक शुरू हो जाती है। माहौल ऐसा बन जाता है, मानो रिश्ते की एक्सपायरी डेट पास हो। इसलिए रिलेशनशिप में पैदा होने वाले नेगेटिव साइन्स को पहचाना और उन्हें सुधारना ज़रूरी है, ताकि रिश्ते में मिठास बनी रहे। आजकल रिश्तों की डोर काभी ढीली सी पड़ती जा रही है। तलाक के बढ़ते मामले भी चिंता का सबब बने हुए हैं। पिछले एक दशक में तलाक के मामलों में 56 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

आए दिन लड़ाई

 

रिलेशनशिप में छोटी-मोटी नोकझोंक तो स भी के साथ चलती ही रहती है, लेकिन यदि यह हफ्ते में पांच दिन होने लगे, तो समझिए आपके बीच इगो प्रॉब्लम शुरू होने लगी है। ऐसे में दोनों लोगों को बैठकर एक दूसरे से अपने गिले-शिकवे दूर करने चाहिये।

केवल पैसों के लेन-देन तक

 

अगर रिश्ते में प्यार केवल तब तक है, जब तक आप दोनों एक दूसरे के लिए एटीएम मशीन बने हुए हैं, तो समझिए कि यह प्यार नहीं, बल्कि सौदा है। ऐसे रिश्ते कभी भी बहुत लंबे समय तक नहीं चलते। हमेशा ध्यान रखें कि किसी भी रिश्ते की नींव पैसा नहीं, बल्कि प्यार और विश्वास होता है।

साथी में सिर्फ कमियां ही नज़र आती हैं

 

यदि आपका पार्टनर हमेशा आपमें कमियां ही ढूंढता रहता है, और अब तो आलम यह है कि आपको भी उनमें सिर्फ कमियां ही नज़र आने लगी हैं, तो समझ लिजिए कि आप दोनों में दूरियां पैदा होने लगी हैं। वास्तव में तो एक-दूसरे के गुणों के साथ कमियां भी अपनाना ही सच्चे प्यार की निशानी है।

प्यार कहीं खो सा गया है

 

आपके बीच प्रेम और लगाव की कमी भी रिश्तों में दूरियों के बढ़ने का संकेत होता है। अगर पहले जैसे प्यार अब कहीं ढूंढने से भी नज़र नहीं आ रहा नहीं चाहिए साथ

 

यदि आपका साथी आपके साथ अंतरंग पल नहीं बिताना चाहता या चाहती तो समझ लीजिए कि दूरियां बढ़ने लगी हैं। यदि बाहर डेट पर जाने पर भी  साथी का उपेक्षापूर्ण व्यवहार दूसरों को यह जाता रहा है कि आपके संबंधो में कड़वाहट आ रही है, तो यह स्थिति कष्टपूर्ण हो सकती है। ये स्थिति आपके रिश्ते के लिए खतरे की घंटी हो सकती है।

लाइफ बोरिंग होने लगे

 

अगर आपको अपने साथी के साथ लाइफ बोरिंग लगने लगे, तो इसका दोष आप एक-दूसरे पर नहीं लगा सकते। ऐसे में आप दोनों को एक-दूसरे के साथ ज़्यादा से ज़्यादा वक्त गुज़ारना चाहिए, ताकि खोई हुई खुशी को वापस पाया जा सके।

किसी और को पसंद करने लगें तो

 

अगर साथी का झुकाव किसी तीसरे इंसान की तरफ होने लगे, तो यह रिश्ता टूटने की सबसे बड़ी वजह बन सकती है। ऐसे में पार्टनर को समझना चाहिए कि वो धोखा दे रहा है और उसका एक कदम कई ज़िंदगियां खराब कर सकता है। अगर इस पर शुरू में ही शालीनता और विवेक के साथ नियंत्रण पा लेंगे, तो बाद में सभी सुखी रह सकते हैं।

एक-दूसरे पर शक

 

एक बार अगर रिश्ते में शक पैदा हो जाए, तो समझें कि आपका रिश्ता एक्सपायरी की ओर जा रहा है। इसलिए ज़रूरी है कि आप सकारात्मक रहें, और छोटी-छोटी बातों को नज़रअंदाज़ करें और यदि मन में कोई नकारात्मक विचार आए तो भी उन्हें एक-दूसरे से प्यार से बात कर क्लियर करें।तो समझिए कि यह खतरे का संकेत है। रिश्ते के शुरूआती दिनों के बाद रोमांस का खुमार धीरे-धीरे थोड़ा कम होता चला जाता है। लेकिन ऐसा भी नहीं कि प्रेम बिलकुल खत्म ही हो जाए।